कौन थीं कृष्ण की 16100 रानियां?.


श्रीकृष्ण का नाम आते ही हमारे मन असीम  प्रेम उमड़ता है। सभी जानते हैं कि असंख्य गोपियां थी जो श्रीकृष्ण से  अनन्य प्रेम करती थीं। परंतु उनकी शादी श्रीकृष्ण से नहीं हो सकी।  श्रीकृष्ण की प्रमुख पटरानी रुकमणी पटरानी रुकमणी सहित उनकी 8 पटरानियां  एवं 16100 रानियां थीं। कुछ विद्वानों का यह मत है कि कृष्ण की प्रमुख  रानियां तो आठ ही थीं, शेष 16,100 रानियां प्रतीकात्मक थीं।

इन्हें वेदों  की ऋचाएं माना गया है। ऐसा माना जाता है चारों वेदों में कुल एक लाख श्लोक  हैं। इनमें से 80 हजार श्लोक यज्ञ के हैं, चार हजार श्लोक पराशक्तियों के  हैं।

शेष 16 हजार श्लोक ही गृहस्थों या आम लोगों के उपयोग के अर्थात भक्ति  के हैं। इन श्लोकों को ऋचाए कहा गया है, ये ऋचाएं ही भगवान कृष्ण की  पत्नियां थीं।

श्रीकृष्ण की प्रत्येक रानी से 10-10 पुत्र एवं प्रत्येक  रानी से 1-1 पुत्री का जन्म हुआ।

Advertisements

2 Responses

  1. Eethat lekhanam samkyaka asthi. Do you wish to be a guest writer on Sanskritonline.com

    Like

    • My friend you have my permission to repost any and all articles from my blog. Thanks for invitation.
      Sam Hindu

      Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: