भारत को इस्लामीकरण से कैसे बचाए ?..


Avishek Roy posted in Rashtriya Swayamsevak Sangh [RSS].

Avishek Roy
भारत को इस्लामीकरण से कैसे बचाए ?..
भारत मे मुस्लिम तकरीबन ३५ प्रतिशत की वृद्धिदर से बढ़ रहे है | जब की हिन्दुओ की वृधि दर लगभग १९ प्रतिशत ही हैं | इस वृधि दर से भारत का इस्लामीकरण तय हैं | भारत मे लोकतंत्र हैं और यही प्रणाली इसे इस्लामिक देश यानि दारुल इस्लाम बनाएगी २०३० नहीं तो २०५० वरना २०६० तो निश्चित ही | पर अब भी समय हैं कुछ उपाय …हैं जिनका हिंदू समुदाय पालन करे तो देश को बचा पायेगा |
१. किसी भी कौम को अपना अस्तित्व बनाये रखने के लिए २.१ की निषेचन दर चाहिए | यानि हर गैर मुस्लिम दंपत्ति को ३ बच्चे पैदा करने होंगे अगर मुसलमानों के बराबर आबादी संतुलन रखना हैं |
२. भारत मे उन हिन्दुओ को भी जिन्हें बहुत आर्थिक समस्या हैं न्यूनतम ३ बच्चे तो परिवार मे करने ही चाहिए | वर्ना सक्षम लोग ४ बच्चे प्रति परिवार करे | वेद मे १० बच्चो तक आज्ञा हैं |
३. अधिक बच्चे पैदा करने के प्रश्न मे एक मुस्लिम दंपत्ति का उत्तर था “हिंदू जो एक बच्चा याँ २ बच्चा पैदा करता हैं और ये सोचता हैं की डॉक्टर बनायेंगे इंजिनियर बनायेंगे याँ आई ए एस बनायेंगे और हम ८ बच्चे पैदा करते हैं और हमारा कोई बच्चा साईकिल पंचर जोड़ता हैं कोई मसाला बेचता हैं पर अगले कुछ सालो मे जब हमारी आबादी होगी तो तुम्हारे डॉक्टर इंजिनियर पर हमारा ही शासन होगा |
४. भाइयो, ये लोकतंत्र हैं यहाँ जिसकी लाठी उसकी भैस का सिद्धांत चलता हैं डॉक्टर इंजिनियर नहीं पंचर जोडने वालो की सरकार बनेगी | लोकतंत्र मे बहु-संस्कृति तो पनपती है पर इस्लामिक साम्राज्य मे तो लोकतंत्र भी नहीं चल पता | सिर्फ मुल्ला मौलवियो की हुकूमत चलती हैं | दूर क्यों जाए पाकिस्तान का हाल देख लीजिए |
५. जो बच्चे हो उन्हें वैदिक धर्मं (हिंदू धर्मं) की मूलभूत जानकारी तो दे ही ताकि वे धर्मं निष्ठा बने | सिर्फ आबादी ही काफी नहीं, अगर धर्मं के बारे मे जानकारी ना होगी तो जैसे की आजकल के कथित धर्मनिरपेक्ष लोग हैं यानि हिंदू विरोधी वैसे ही बन जायेंगे |
६. ४ वेद, ६ शास्त्र, ११ उपनिषद , वाल्मीकि रामायण, संशोधित महाभारत आदि ग्रन्थ उपलब्ध ना हो तो भी एक सत्यार्थ प्रकाश तो रखिये ही | उस पुस्तक को पढने के बाद हिंदू धर्मं मे निष्ठा अपने आप आजाती हैं |
७. संगठित रहिये, क्योकि जंगल मे वही जीव बच पाते हैं जो संगठित रहते है | अपने परिवार, मोहल्ला , रिश्तेदार, जाती और धर्मं के नाम पर संगठित रहिये | कमजोरी को ताकत बनाने का यही तरीका हैं धर्मं के नाम पर एक होइए और विघटन को वर्गीकरण के तौर पर लीजिए |
८. जातिवाद के विचार रखते हैं तो भी धर्मं को वरीयता दे | जब धर्मं ही नहीं रहेगा तो जाती कहा बचेगी | तो कोई भी जाती हिंदू विरोधी याँ मुसलमानों की तलवे चाटने वाला नेता ना रखे | ये धर्मं से भी द्रोह है और जाती से भी क्यों की धर्मं से जाती है जाती से धर्मं नहीं |
९. समाज मे धर्मं रक्षा के प्रति जागरूकता फैलाये | भारत का इस्लामीकरण हो रहा हैं और हमे उसे रोकना है ये बात अधिक से अधिक लोगो तक पहुचाये |
१०. भारत का इस्लामीकरण रोकने का एक स्थायी उपाय हैं के भारत को आर्य राष्ट्र/हिंदू राष्ट्र /वैदिक राष्ट्र (य जो कहना चाहे ) बनाये | भारत का संविधान वेदों के आधार पर रखे |
११. नए हिन्दुवादी दल याँ जब तक कोई खुल के सत्य बोलने वाला दल नहीं आता तब तक हर दल के हिन्दुयीकरण की निति पर चले | जब कोई वोट मांगने आये चाहे वो किसी भी दल का हो तो उस से पूछिए की क्या वो हिंदू(आर्य) राष्ट्र का समर्थन करता हैं? उसके हां कहने पर ही उसको वोट दीजिए |
१२. हिंदू संगठनो को आर्थिक रूप से मजबूत करिये क्यों की यही वो राष्ट्रवादी संगठन है जो आपातकल मे अपने लोगो की रक्षा करते हैं |
१३. अरबराष्ट्रवादियो का आर्थिक बहिष्कार करिये | जो रहे यहाँ, खाए यहाँ का, पर माने अरब की संस्कृति और भारत को अरब बनाने के लिए आबादी बढ़ाये उनका अर्थ बहिष्कार ही उत्तम उपाय हैं |
१४. मुस्लिम ये जानते हुए बच्चे पैदा करते हैं की इतने बच्चे अच्छा जीवन नहीं जी पाएंगे पर हिंदू उनका पेट पाल ही लेंगे किसी ना किसी तरह | उनकी इस भ्रान्ति को तोडिये | मुस्लिमो को आर्थिक लाभ मत दीजिए | यानि उनकी साईकिल की दुकान से पंचर मत जुड़वाइये, फल की दुकान से फल मत लीजिए |
१५. सभी के साथ ऐसा ना करिये, जो राष्ट्रवाद और भारतीय संस्कृति और भारतीय धर्मं पर पर चलना चाहते हैं याँ चलने को तैयार हो जाते हैं पूरा उनको सहयोग दीजिए |
१६. मैं ये नहीं कह रहा के आप मुस्लिमो से आर्थिक लेन-देन बंद कर दे | आर्थिक लाभ लीजिए पर आर्थिक लाभ दीजिए मत |
१७. चमड़े का प्रयोग ना करे | ना केवल इस से आप जीव हत्या और पर्यावरण बचायेंगे | अपितु बड़े मुस्लिम कारोबारियों को जिनकी आस्था भारतीय संविधान से ज्यादा शरिया मे होती हैं आर्थिक नुक्सान पहुचायेंगे | ये अर्थीक बहिष्कार का ही अंग हुआ |
१८. मांसाहार का त्याग करे, पुनः उन्ही कारणों से | क्यों की मांस उद्योघ मे हिंदू न्यून हैं | हिन्दुओ मे यादव भाई अगर गाय का दूध बेचते हैं तो मुस्लिम उसी गाये का मांस | इस लिए मांस हर त्यागिये देश धर्मं और समाज के लिए |
१९. इधन और ऊर्जा बचाए | आप के द्वारा इस्तेमाल किए गए पेट्रोल से तेल उत्पादक इस्लामिक देश डॉलर कमाते हैं और वही रकम भारत मे जेहाद और आतंकवाद के लिए खर्च की जाती है | इसलिए पेट्रोल बचाए बिजली बचाए सौर्य उर्जा प्रयोग करे व अन्य प्राकृतिक संसाधन प्रयोग करे |
२०. अपने आस-पास मुस्लिम मत बसाये | वरना आज नहीं कल आपका इलाके का इस्लामीकरण हो जाएगा |
२१. मुसलमानों से मित्रता रखे | उनसे संपर्क ना तोड़े और अच्छे से बात करे | जैसे ये हमसे भाई जान कर के करते हैं | इनसे स्वस्थ चर्चा इस्लाम पर रखे और सत्यार्थ प्रकाश पढ़ने को प्रेरित करते रहे | पर घर के अंदर मत लाइए वरना आज नहीं कल ये आपके आसपास की किसी हिंदू लड़की को लेके भाग जाएँगे |
२२. इनको वापस वैदिक धर्मं मे आने को कहे | शुद्धि के लाभ बताये |
२३. मुस्लिम लड़कियों से आर्य (हिंदू) शादी करे |
२४. अगर खुद नहीं कर सकते तो दूसरों को प्रेरित करे जो अविवाहित है | उन्हें रोजगार दीजिए जो मुस्लिम लड़कियों से शादी करते हैं |
२५. अगर कोई हिंदू लड़की किसी मुस्लिम लड़के से शादी करने जा रही है क्या कैसे भी संपर्क मे है तो तुरंत उसके घर वालो को सूचित करे | किसी भी तरह हिंदू लड़की को मुस्लिम लड़के के प्यार के जाल से बचाए |
२६. हिंदू विरोधी मीडिया का बहिष्कार करे | हिंदू विरोधी अखबार को मत ख़रीदे जैसे टाइम्स ऑफ इंडिया , हिन्दुस्थान टाइम्स , दैनिक हिन्दुस्थान इत्यादि | हिंदू विरोधी चैनल जैसे अन. डी. टी .वी इत्यादि मत देखिये | दूसरों को भी यही करने को कहिये |
२७. अपने लोगो को काम दीजिए | जो काम विशेष कर मुस्लिम करते हैं वो हिन्दुओ को सिखलाइए और फिर उन्हें काम पर रखिये |
२८. हिंदू राष्ट्र का समर्थन करने वालो का यथा संभव सहयोग करे | यानि तन-मन-धन जैसे हो सके |
२९. भारत की संस्कृति धर्मं को बचाना है तो वैदिक राष्ट्र बनाना हैं | बस यही हमारा नारा हैं |
३०. द्रण प्रतिज्ञ हो जाइये की किसी भी हाल मे हमे भारत को दारुल इस्लाम (इस्लामिक देश) नहीं बनने देना हैं |
उपरोक्त उपायों पर अमल करने का प्रयास करे | नए सुझाव समविचारों वालो को भी दे |

Advertisements

10 Responses

  1. adarniye.santosh bhatt sahab ap jaise maha purush ko is tuch prani ka koti koti nama.hey mahanubhv kripya kar k tamam bharat vashio ko ye batane ka kasht kariye ki apke hindutva ko lekar chinta vyakt ki hai atha aapne jo iska nivarad apne vish bhare shabdo se kiya hai.uska sotra kya hai kripa krke meri jigyasa ko shant kijye apki ati kripa hogi.apki jo baten hai wo apko agyani ashikchit uddand mansik roop se vichipt aur ashurik rakshas pavati ka partit karti hai.atha apse savinay nivedan hai ki muslimo se jo apki nafrat hai usko chod k manavta k liye kam kijiye jsse samast bhaat aur visvhva ka aur puri manav jati ka kalyan ho.jai hind jai bharat jai ho manavta ki

    Like

  2. bhai santosh bhatt sahab jitni baton ka aapne hinduon se ahwan kiya hai.socho agar musalman aisa sochne lage to kya hoga.

    aP jaise log sahi mayno mein sacche desh drohi ho q ki ap ki is ghatiya soch aur harkato se desh ko kya nuksaan ho soch bhi nahi sakte.

    tum sab izrayilee agent ho agent..

    aur rahi bat islam ko rokne ki to chaudah sau salo se yahudi isayiat aur budhisht hindu sab milke koshish kar rahe hai lekin koi fayda nahi jitna islam ko mitane ki koshish ho rahi hai utna hi islam aur tezi se fail raha hai sach hamesha uncha rahta hai.

    Like

  3. Ek samay ayega jab sare desh hiduism ko manega.

    Like

  4. Ek samay sara world hinduism ko manega

    Like

  5. मैं भी िहन्दु राष्ट्र का समर्थक हूँ I like ur speech I also want a Hindu rastra

    Like

  6. aur ha ye hindustan hi nahi puri duniya us malik ki hai jo ajanma hai nirakar hai ….aur pure duniya ke log uske mohtaj hai wo kisi ka mohtaj nahi…aur is duniya me rahne ke kabil wahi hai jo is bat ko samjhe aur jane ki is pure duniya ke log ek hi mata pita ke santan hai jisko vedo me manu aur suprekha bataya gaya hai aur kuran aur bible me adam aur hawa ke name se aya hai …
    to samjhe bhai aap bhi mere bhai ho buniyadi taur par

    Like

  7. tum behen chod logon ko aur kuch kaam nahi hai kya

    Like

  8. I agree with your nationalist thoughts. We Hindus should condemn Muslim appeasement policies of current government. Muslim population should be controlled to save this nation becoming a islamic nation.

    Like

    • tum kuch bhi karlo islam ko rok nahi paoge ke kyoki tumhari soch hi gandi hai sanatan dharm ki bat karte ho aur kai bhagwano ko mante ho sharm karo..jaisa vedo ne bataya waisa sirf ek saccha musalman hi karta hai tum jaise ghatiya log nahi …vedo ne bataya na tasya pratima asti…arthat uski koi pratima nahi hai …aur tum murtiyo ki dukan kholke baithe ho…sanatn dhram ka matlab saccha dhram hai aur aaj duniya me sirf islam saccha dharm hai aur koi nahi…aur tumhare kalki awtar mahmmad rasul slaw hai agar tumko tumhare guruo ne ved sahi se parhaya hota to tabhi tum jan pate antim risi ke bare me …tumhare dhongi bababo ne tumse sabkuch chupa liya aur tum bahut andhere me ho jao gyan hasil karo pahle..nahi to wo din dur nahi jab tumhari maut ho jayegi aur tum pachtane ke siwa kuch na kar paoge

      Like

      • aise bhi muhammad sahab ko bharat se chaar islamic desh (iran, afganistan, pakistan, bangladesh) ka nazrana pess ho chuka hai aur aage do aur hone wale hain assam aur kerala.

        Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: