भारत और पाकिस्तान के गद्दार निवासियों को सीख देती एक हमारी प्रस्तुति। –


भारत और पाकिस्तान के गद्दार निवासियों को सीख देती एक हमारी प्रस्तुति। –from Face Book Friend. ———

-मन्दिर मस्जिद चर्च रौशनी गुरुद्वारे शर्मिन्दा हैं। 

भारत मां को डायन कहने वाले अबतक जिन्दा है। 

अगर कभी इतिहास दुहाई देकर तुमसे पूंछेगा। 

दुनियाँ का हर कोना तुमसे तुम्हें जगाकर पूंछेगा। 

ऎसी क्या मजबूरी थी जो मां को गाली सह बैठे। 

गन्दी नाली के कीड़े गुलशन के माली बन बैठे। 

लम्बे कुर्ते, छोटी लुन्गी हत्यारी सी लगती है।

 अब तो जाली वाली टोपी गद्दारी ही लगती है।

 ईद कोई हो चन्दा मामा तुम्हें बताने आता है। 

मुझे मानते हो तो शीतलता समझाने जाताहै। 

भीख मिली रौशनी की ताकत होती ही कितनी है। 

सूरज के उजियारे में जुगनू की कीमत जितनी है। 

जिसको कहते तुम महान वो अकबर भी शर्मिन्दा है। 

कहता गर अकबर महान गौहत्यारा क्यों जिन्दा है। 

हमने तो रघुकुल के गीतों से भी तुमको जोड़ा है। 

ईश्वर अल्लाह एक है दुनिया में सन्देशा छोड़ा है। 

कैसे तुमने कर्म किये हैं अपने तौर तरीकों से। 

कुछना सीखा तुमने अपने अशफाक और हमीदों से। 

केवल सुन्नत वाले ही मन्नत के ठेकेदार नहीं।

 ईश्वर अल्लाह दरबारों में रहमत के हकदार नहीं। 

लाहौर, कराची से झन्डे लेकर जो भारत आते हैं। 

अपनी मां बहने आतंकी घर गिरवी रख आते हैं। 

मस्जिद और मदरसों से हत्यारी शिछा देते हो। 

इसीलिये पेशावर. में स्कूली हमले लेते हो।

 तुममें से कुछ तलवे देखो चाट रहे गद्दारों के।

 नाली के कीडे इसीलिये हकदार बने हथियारों के। 

केवल एक सन्देशा उनतक पहुंचाने की बारी है।

 ना अब जिन्ना है, ना नेहरू ना गांधी सी यारी है। 

अबकी युद्ध हुआ तो फिर अन्तिम सौगात यही होगी। 

भारत तो होगा नक्से में पर तेरी बात नहीं होगी।

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: